प्रतीकात्मक इमेज

उज्जैन। शहर का एक शख्स 15 साल पहले एक होटल में बर्तन धोकर अपना गुजर-बसर करता था, लेकिन एक दिन ऐसा भी आया जब उसने खुद ही एक होटल खोल लिया। रातोंरात होटल मालिक बना ये शख्स अब सायबर पुलिस की गिरफ्त में है।

इसे भी पढ़ें: फर्जीवाड़े के आरोपी पायलट बाबा की याचिका पर टली सुनवाई

दरअसल एक होटल में बर्तन धोकर अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने वाला यह शख्स बैंक मैनेजर बनकर लोगों से एटीएम नंबर व कोड पूछता था। बाद में उनके बैंक खाते से हजारों रुपए उड़ा लेता था। इस बदमाश को सायबर सेल ने झारखंड के देवधर से गिरफ्तार किया है।  जानकारी के मुताबिक आरोपी पश्चिम बंगाल के हावड़ा का रहने वाला है तथा 15 साल पहले वहां होटल पर बर्तन धोने का काम करता था। सायबर ठगी कर उसने लाखों रुपए कमाए और उन पैसों से अपनी ही होटल खोल ली।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार के दौरान 2474 बार पाक ने किया सीजफायर का उल्लंघन : कांग्रेस

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि झारखंड के कर्मतंड जिले के जामताड़ा गांव से ही ठगी की ट्रेनिंग ली थी। पुलिस अब अन्य मामलों में पूछताछ में जुटी है। स्टेट सायबर सेल टीआई दीपिका शिंदे के मुताबिक जैथल निवासी संतोष सिलोदिया को इस बदमाश ने फोन किया और बोला कि मैं बैंक मैनेजर बोल रहा हूं। उसने एटीएम ब्लॉक होने की बात कही। इसके बाद उसका एटीएम नंबर व वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) पूछकर बैंक सिलोदिया के खाते से 9 हजार रुपए उड़ा दिए। उनकी शिकायत मिलने पर मामले की जांच की जा रही थी। जांच में सामने आया कि उसके खाते से झारखंड के देवधर जिला निवासी जमालउद्दीन पिता चिरागउद्दीन अंसारी ने ठगी की है। इसके बाद सायबर टीम ने उसे गिरफ्तार किया और उज्जैन ले आई।

आरोपी ने बताया कि उसके साथ उसका एक और साथी सरफराज भी इस सायबर ठगी में शामिल है। अब पुलिस उसकी भी तलाश में जुटी है। पूछताछ में जमालउद्दीन ने पुलिस को बताया कि वह मूलत: पश्चिम बंगाल के हावड़ा का रहने वाला है। 15 साल पहले तक वहां एक होटल में बर्तन धोने का काम करता था। मगर सायबर ठगी सीखने के बाद उसने कई लोगों को लाखों का चूना लगाया। अब हावड़ा में ही उसकी खुद की होटल है।

ढाई सौ रुपए में ली थी ट्रेनिंग

जमालउद्दीन ने पुलिस को बताया कि सरफराज के माध्यम से वह झारखंड के कर्मतंड जले के जामताड़ा गांव गया था। वहां उसने ढाई हजार रुपए देकर सायबर ठगी की ट्रेनिंग ली थी। ट्रेनिंग के बाद उसने कई लोगों के बैंक खाते से पैसे उड़ाए। अब तक उसके बैंक खाते में लाखों रुपए का ट्रांजेक्शन हो चुका है। अब भी उसके खाते में 5 लाख रुपए हैं, जो पुलिस ने सीज करवा दिए हैं।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here