नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने गुरुवार को घोषणा की है कि समूह की सहायक कंपनी रिलायंस जिओ इंफोकॉम लिमिटेड (आरजेआईएल) ने अनिल अंबानी के स्वामित्व वाले अनिल धीरूभाई अंबानी समूह (एडीएजी) की टेलिकॉम सेवादाता कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन्स लिमिटेड (आरकॉम) की कुछ परिसंपत्तियां खरीदेगी। इस संबंध में दोनों समूहों के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं।’

पर्यटकों को क्या आगरा से आगे भी जाना चाहिए?

समझौते के मुताबिक इस पूरी प्रक्रिया में एसबीआई कैपिटल मार्केट लिमिटेड परिसंपत्तियों के मौद्रिकरण को लेकर प्रमुख एजेंसी होगी। वहीं पूरी प्रक्रिया को कारोबारी जगत के ख्यातिमान विशेषज्ञों की निगरानी में अंजाम दिया जाएगा।

रिलायंस जिओ दो स्तरीय निविदा प्रक्रिया में सफल साबित हुआ है। समझौते के मुताबिक रिलायंस जिओ, आरकॉम के मोबाइल टॉवर, ऑप्टिक फाइबर केबल नेटवर्क, स्पेक्ट्रम और मीडिया कर्न्वजेंस नोड्स को अधिग्रहित करेगा।

विराट अनुष्का के रिसेप्शन में कुछ ऐसे दिखे बच्चन परिवार के तैवर

इस पूरी प्रक्रिया में रिलायंस जिओ की ओर से गोल्डमैन सॉच, सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स, जेएम फाइनेंसियल प्राइवेट लिमिटेड, डेविस पोल्क एंड वॉर्डवेल एलएलपी, साइरिल अमरचंद मंगलदास, खैतान एंड कंपनी और अर्नेस्ट एंड यंग्स ने सलाहकार की भूमिका निभाई।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here