नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की नाकामी साल 2018 के पहले दिन ही सबके सामने आ गई। दिल्ली के दिल कहे जाने वाले कनॉट प्लेस, इंडिया गेट सहित संसद, राष्ट्रपति भवन वाले लुटियंस जोन में अभूतपूर्व ट्रैफिक जाम से लोग परेशान होते दिखे। खुद दिल्ली पुलिस ने माना कि एक लाख से ज्यादा पैदल और कई लाख वाहन दिल्ली के इस इलाके में आए, जिसके चलते ये ट्रैफिक जाम देखने को मिला।

इसे भी पढ़ें: सोनिया नहीं होगी रिटायर, बनी रहेगी सीएलपी-यूपीए अध्यक्ष पद पर

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने बाकायदा कनॉट प्लेस, इंडियागेट इलाके का नक्शा जारी करते हुए बताया कि इस इलाके की अधिकांश सड़कों पर ट्रैफिक जाम है। इसके चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

इसे भी पढ़ें: सियासी जमीन पर रजनीकांत का ‘लुंगी डांस

साल 2017 के आखिरी दिन 31 दिसम्बर को दिल्ली पुलिस ने कनॉट प्लेस के इनर सर्किल में जाने के सभी रास्ते वाहनों के लिए बंद कर दिए थे। कनॉट प्लेस जाने वाले सभी रास्तों पर पुलिस पिकेटिंग की गई थी और सघन चेकिंग अभियान चलाया गया। लेकिन अगले ही दिन 01 जनवरी को दिल्ली के अति-महत्वपूर्ण इलाका कहे जाने वाले लुटियंस जोन पूरी तरह से ट्रैफिक जाम में त्रस्त दिखा। इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस की नाकामी सामने आई। दिल्ली पुलिस हर साल के अनुभव के बावजूद इस स्थिति का अनुमान लगाने में पूरी तरह असफल रही और दिल्लीवालों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस पूरे दृश्य के दौरान दिल्ली पुलिस की ट्रैफिक शाखा के जवान नदारद दिखे।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here