नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग के एक नोटिस के हवाले से दावा किया है कि दिल्ली में बिजली 30 प्रतिशत महंगी होने वाली है। पार्टी ने इसे केजरीवाल सरकार की बदले की राजनीति करार दिया है।

ये तीन बड़े बदलावों के बाद रिलीज होगी फिल्म ‘पद्मावती’

भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि आम आदमी पार्टी मुखिया अरविन्द केजरीवाल अब दिल्ली की जनता से नगर निगम चुनाव की हार का बदला लेने के लिये आतुर हैं| इसी के चलते पानी एवं बिजली के दामों में अनावश्यक बढ़ोत्तरी कर दिल्ली की जनता, विशेषकर मध्यम एवं निम्न आय वर्ग पर कुठाराघात कर रहे हैं।

तिवारी ने कहा कि निगम चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल खुल कर कहते थे कि यदि आम आदमी पार्टी नहीं जीती तो दिल्ली में बिजली-पानी के दाम बढ़ जाएंगे और आज जो बढ़ोत्तरी हो रही उससे मुख्यमंत्री अपने बोल को सार्थक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल सरकार की पानी के दामों की वृद्धि की सीधी घोषणा के बाद अब दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग का बिजली के दाम में 30 प्रतिशत बढ़ोत्तरी का पब्लिक नोटिस जनता के सामने है| इसके साथ ही जनता समझ रही है कि मेट्रो किराये की वृद्धि के पीछे भी केजरीवाल सरकार की स्वीकृति थी। केजरीवाल का विरोध केवल एक छलावा था।

अमिताभ बच्चन ने स्वच्छता को ध्यान में रखकर उठाया बड़ा कदम, भेंट किया खुदाई मशीन और ट्रैक्टर

तिवारी ने कहा कि दिल्ली भाजपा केजरीवाल सरकार को पानी के दामों में बढ़ोत्तरी वापस लेने के बाध्य करेगी और बिजली के दामों में प्रस्तावित बढ़ोत्तरी को रोकने के लिए डी.ई.आर.सी. में आपत्ति दाखिल करने के अलावा हम जनांदोलन का रास्ता भी अपनाएंगे।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here