कोटा। इस बार इंजीरियरिंग की अंतर्राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन, 2018 पेन-पेपर मोड में 8 अप्रैल को आयोजित की जाएगी। सीबीएसई द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार, यह परीक्षा भारत के 104 शहरों के परीक्षा केंद्रों सहित 9 अन्य देशों श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल, सिंगापुर, बहरीन, दुबई, मस्कट, रियाद व शारजहां में भी होगी।

ये भी पढ़े- क्या हुआ जब नेता के भाई के घर से बरामत हुआ सवा लाख रुपये के नकली नोट

परीक्षा ऑनलाइन मोड में अप्रैल,2018 के मध्य में देश के सभी केंद्रों पर होगी, जिसकी तारीख की घोषणा जल्द की जाएगी। परीक्षा में आवेदन के लिए 12वीं पास कर चुके या इस वर्ष 12वीं में अध्ययनरत विद्यार्थी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन दिसंबर,2017 से जनवरी अंत तक कर सकेंगे। इसमें से चयनित 2 लाख 24 हजार परीक्षार्थी आईआईटी में एडमिशन के लिए जेईई-एडवांस्ड,2018 का ऑनलाइन पेपर देंगे।

24,323 से अधिक सीटों के लिए परीक्षा

गौरतलब है कि जेईई-मेन की रैंक के आधार पर देश के 31 एनआईटी , 24 ट्रिपल आईटी, 21 गवर्नमेंट वित्त पोषित संस्थानों की 24,323 सीटों पर प्रवेश दिए जाएंगे। जेईई-मेन,2018 का पेपर-1 ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों मोड में होगा, जबकि बीआर्क के लिए पेपर-2 केवल ऑनलाइन होगा। 3 घंटे के पेपर-1 में फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स तीनों विषयों से बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे। जबकि पेपर-2 में मैथ्स, एप्टीट्यूट टेस्ट व ड्राइंग टेस्ट पर आधारित प्रश्न होंगे। इस वर्ष जेईई-मेन में 11.98 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने पंजीयन कराया था, उसमें से देश के 1781 परीक्षा केंद्रों पर 10 लाख 20 हजार ने पेपर-1 दिया था।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here