लॉस एंजेल्स। अमेरिका के मिडवेस्ट विस्क़ोनसिन राज्य में एक भारतीय अमेरिकी दम्पति को धोखाधड़ी के मामले में जेल की सजा दी गई है। इसकी वजह से प्रवासी भारतीय समुदाय को शर्मसार होना पड़ा है।

मोटोरोला ने दिया नए साल का तोहफा, Moto G5S Plus के दामों में की कटौती

विदित हो कि मनीष पटेल (26) और उसकी पत्नी निकिता शुक्ला को 780 लोगों के साथ धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अदालत ने पति को तीन साल दो महीने और पत्नी को एक साल जेल की सजा सुनाई है।

मनीष और निकिता ने भारतीय और अमेरिकी लोगों के जाली दस्तावेज़ और ड्राइविंग लाइसेंस बनवाए और उनसे क़रीब सात करोड़ डॉलर ठगे। इनके घर से 147 जाली ड्राइविंग लाइसेंस मिले, जबकि कार से 21 हज़ार डालर नक़द बरामद हुए थे।

2017 की दूसरी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी ‘टाइगर जिंदा है’

अदालत ने डाॅलर में इतनी मुद्रा जमा करने का निर्देश भी दिया है। इसी तरह निकिता ने भी लोगों को एक लाख डॉलर से अधिक की चपत लगाई थी। अदालत ने उसे भी इतनी राशि जमा करने का आदेश दिया है।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here