पानीपत। देश की मशहूर मॉडल व बिग बॉस-11 की प्रतिभागी अर्शी खान के खिलाफ पानीपत के वकील ने देश के राट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान करने और लोगों की देश भक्ति की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के मामले में पानीपत की अदालत सुनवाई कर रही है। वहीं कोर्ट 10 नवंबर को अर्शी खान के मामले में अंतिम सुनवाई करते हुए फैसला देगी। गौरतलब है कि बिग बॉस-11 के प्रतिभागी अर्शी खान के खिलाफ पानीपत के मानवाधिकार कार्यकर्ता एडवोकेट मोमिन खान ने अर्शी खान के खिलाफ थाना सिटी पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी और एक साल से पानीपत की अदालत में अर्शी खान के खिलाफ कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

एडवोकेट मोमिन मलिक ने बताया कि सन् 2016 में इंडिया-पाकिस्तान के मैच के दौरान मॉडल अर्शी खान ने अपनी नग्न छाती पर भारत का तिरंगा बनाकर तिरंगे का अपमान किया था और उसने वहां भारत और पाकिस्तान के जीतने पर नि:वस्त्र होने की घोषणा की थी। मोमिन का आरोप है कि मॉडल अर्शी खान ने अपने शरीर पर पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाडी शाहिद अफरीदी बूम बूम लिखवाया था।

उन्होंने आरोप लगाया कि अर्शी खान ने अपनी प्रसिद्धी के लिए जहां भारत के ध्वज का अपमान किया, वहीं पाकिस्तानी खिलाडी अफरीदी को सम्मान देकर देश की जनता का अपमान किया। वहीं इस मामले की पानीपत की कोर्ट में एक साल से सुनवाई चल रही है। उन्होंने बताया कि मॉडल अर्शी खान के केस में कोर्ट 10 नवंबर को अपना फैसला देगी। वहीं कोर्ट का फैसला अर्शी खान के खिलाफ आने पर बिग बॉस हाउस में उसको पानीपत की अदालत की और से नोटिस जाएगा और उसे पानीपत की अदालत में पेश होने के आदेश दिए जाएंगे।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here