नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने बिजली की दरें बढ़ाने की खबरों का एक बार फिर खंडन किया है। उल्लेखनीय है कि पिछले दो दिन से ये खबर मीडिया में चल रही थी कि सरकार बिजली की दरों में बढ़ोतरी कर रही है।

इसे भी पढ़ें: नया साल मनाने राहुल पहुंचे गोवा, मां के साथ मनाएंगे नया साल

दिल्ली प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा भी इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा गया था, ‘पानी के बाद अब बिजली के दाम बढ़ना तय। “दिल्ली के मलिक” के दाम नहीं बढ़ाने वाले दावों की पोल रोज़ खुल रही है।’ इसी मुद्दे पर भाजपा पर पलटवार करते हुए दिल्ली सरकार के बिजली मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि बिजली की दरों में बढ़ोतरी का कोई सवाल ही नहीं है। बिजली दरें पहले से ही अधिक है और इसे कम करने की आवश्यकता है। जैन ने कहा, ‘बिजली दरों में बढ़ोतरी नहीं, बल्कि इसे और घटाने की आवश्यकता है। बिजली दरों में बढ़ोतरी के लिए भले ही पब्लिक नोटिस जारी किया गया है लेकिन सरकार ने 3 सालों से दरों में बढ़ोतरी नहीं होने दी है। इस वर्ष भी बिजली की दरों में बढ़ोतरी नहीं होगी।’

इसे भी पढ़ें: राज्यसभा चुनाव : संजय पर मंजूरी, विश्वास पर तकरार जारी

इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एक वीडियो ट्विटर पर साझा किया है। जिसमें एक टैक्सी ड्राइवर दिल्ली सरकार की तारीफ कर रहा है। वीडियों में टैक्सी ड्राइवर ने कहा, ‘दिल्ली में अरविन्द केजरीवाल की सरकार बनने के बाद मेरा पानी का बिल जीरो आता है और बिजली का बिल पहले 1500 से 2000 आता था अब वह 400 आता है, मोहल्ला क्लीनिक में दवाइयां मिल जाती है कहीं बाहर नहीं जाना हो पड़ता, पहले प्राइवेट में बहुत पैसे लगते थे।’

उल्लेखनीय है कि बिजली कंपनियों ने दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेग्युलेटरी कमिशन (डीईआरसी) में एनुअल रेवेन्यू रिक्वायरमेंट (एआरआर) रिपोर्ट सब्मिट की है। जिसमें कहा गया है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस बार एग्रीगेट टेक्निकल ऐंड कमर्शल (एटीऐंडसी) नुकसान पिछले वर्ष की तुलना में कम है। पिछले साल एटीऐंडसी हानि 11 प्रतिशत थी लेकिन इस वर्ष ये 10.6 प्रतिशत रही है। बीआरपीएल ने बिजली सेल्स के आधार पर दरों में बढ़ोतरी की मांग की है। 

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here