जम्मू। संसद भवन हमला केस में फांसी दिए गए आतंकी अफजल गुरु के बेटे गालिब ने समाज में उदाहरण पेश किया है| उसने 12वीं की परीक्षा में डिस्टिंगशन हासिल की है और अब वह डाक्टर बन कर समाज व देश की सेवा करना चाहता है| यह अलगाव व आतंक की राह पर चलने वालों के लिए नई सीख है।

राष्ट्रगान को लेकर एक्ट्रेस काजोल ने दिया बड़ा बयान

गुरुवार को अफज़ल गुरु के बेटे गालिब अफज़ल गुरु की 12वीं की परीक्षा का जैसे ही परिणाम आया, उसकी वाहवाही होने लगी| उसे परीक्षा में 88.2 फीसदी अंक हासिल हुए हैं| शिक्षकों, पड़ोसियों और राजनेताओं ने एक स्वर में कहा कि इससे अलगाव व आतंक का सिर झुक गया|

समाज को एक नई सोच देखने को मिली। परीक्षा में पास होने के बाद जब गालिब से पूछा गया कि वह आगे क्या करना चाहता है तो उसने दो-टूक कहा कि वह डाक्टर बन कर समाज व देश की सेवा करना चाहता है| उसने कहा कि वह अपने पिता के नक्शे कदमों पर चलकर अलगाव व आतंक का रास्ता नहीं अपनाना चाहता।

राम गोपाल वर्मा की इस फिल्म में होगी ये पॉर्न स्टार

जम्मू कश्मीर स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 12वीं के परीक्षा नतीजे गुरुवार को घोषित किए हैं जिसमें अफज़ल के बेटे गालिब अफज़ल गुरु ने साइंस स्ट्रीम में डिस्टिंगशन हासिल की है। उल्लेखनीय है कि आतंकी अफज़ल गुरु को तिहाड़ जेल में 9 फरवरी, 2013 को फांसी दे दी गई थी।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here