भोपाल। देश के सबसे करोड़पति मुख्यमंत्रियों में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 14वें पायदान पर हैं। यह खुलासा किया है राजनीतिक दलों पर नजर रखने वाले संगठन एडीआर (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स की ओर से जारी एक रिपोर्ट ने।

दरअसल एडीआर ने नेशनल इलेक्शन वॉच (न्यू) के साथ मिलकर यह रिपोर्ट तैयार की। दोनों ही संगठनों ने इसे देशभर में हुए केंद्र और राज्य चुनाव में मुख्यमंत्रियों के दिए हलफनामे और संपत्ति के ब्योरे का अध्ययन कर यह रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि देश में सबसे करोड़पति मुख्मंत्री कौन है और किस मुख्यमंत्री के खिलाफ क्या-क्या अपराध दर्ज हैं।

शिवराज सिंह चौहान 14वें स्थान पर

इस रिपोर्ट के मुताबिक देश में जहां करोड़पति बनने वाले मुख्यमंत्रियों में पहले पायदान पर आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू हैं। तो दूसरे स्थान पर अरुणाचल के सीएम प्रेमा खांडू सबसे अमीर मुख्यमंत्री हैं। वहीं प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान का नाम 14वें पायदान पर है।

सीएम शिवराज सिंह की संपत्ति

एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान की कुल संपत्ति पर नजर डालें तो चल संपत्ति 70,54,114 अचल संपत्ति 5,57, 00,000 तथा उनकी कुल संपत्ति 6,27,54,114,6 की है।

गौरतलब है कि एडीआर ने इस रिपोर्ट में मुख्यमंत्रियों के बारे में वे सब जानकारियां उपलब्ध कराई हैं जो मुख्यमंत्रियों ने स्वयं नामांकन पेपर्स के साथ दिए गए शपथ पत्रों में दी है। ये शपथ पत्र भारतीय चुनाव आयोग की वेबसाइट से प्राप्त किए गए हैं।

31 मुख्यमंत्रियों में से 25 करोड़पति

एडीआर की रिपोर्ट में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। उसकी रिपोर्ट ने चौंकाने वाले तथ्य पेश किए हैं। एडीआर की रिपोर्ट में सामने आया है कि देश में 31 मुख्यमंत्रियों में से 25 करोड़पति बन गए हैं। वहीं 35 प्रतिशत मुख्यमंत्रियों पर आपराधिक मामले भी दर्ज हैं।

रिपोर्ट में क्या है खास

– रिपोर्ट के अनुसार आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू 177.48 करोड़ रुपए की संपत्ति के साथ पहले स्थान पर हैं।

-देश के 25 मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री करोड़पति हैं।

– इनमें से दो मुख्यमंत्रियों के पास तो 100 करोड़ से भी अधिक की प्रापर्टी है।

-चंद्रबाबू नायडू के बाद अरुणाचल के सीएम प्रेमा खांडू सबसे अमीर मुख्यमंत्री हैं। उनकी संपत्ति 129.57 करोड़ रुपए है।

-तीसरे नंबर पर पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह हैं। उनके पास 48.31 करोड़ रुपए की संपत्ति है।

-सबसे कम संपत्ति जिनकी है वो हैं त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मणिक सरकार हैं। सिर्फ 27 लाख रुपए की प्रापर्टी उनके नाम पर है।

-सरकार के बाद ही पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के पास 30 लाख की प्रापर्टी है।

-जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती के पास 55 लाख से अधिक की प्रापर्टी है और वे सबसे कम धनी मुख्यमंत्रियों के क्लब में शामिल हैं।

-यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ के पास 95.98 लाख की संपत्ति हैं और वे छठवें गरीब सीएम हैं।

– संपत्ति के ब्योरे के साथ ही रिपोर्ट ने यह भी खुलासा किया है कि देश के 35 फीसदी मुख्यमंत्रियों पर क्रिमिनल केस हैं। देवेंद्र फडणवीस इस लिस्ट में टॉप पर हैं।

– रिपोर्ट के अनुसार 31 मुख्यमंत्रियों में से 11 ने स्वयं के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज होने की घोषणा की है।

-इसमें से 26 फीसदी मुख्यमंत्रियों के खिलाफ हत्या, हत्या की कोशिश, धोखाधड़ी जैसे गंभीर क्रिमिनल केस दर्ज हैं।

Advertisement
Nokia
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here